पाकिस्तान में भूकंप से 2 मरे, उत्तर भारत में भी झटके

258

Earthquake-in-Pakistanइस्लामाबाद/काबुल/नई दिल्ली: भारत, अफगानिस्तान तथा पाकिस्तान के कई इलाके रविवार को आए भूकंप से थर्रा गए। मीडिया रपट में बताया गया है कि पाकिस्तान में भूकंप के कारण दो लोगों की मौत हो गई जबकि दस लोग घायल हो गए।

पाकिस्तान में अधिकारियों ने कहा कि भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.1 मापी गई और इसने देश के उत्तरी एवं पूर्वी क्षेत्रों को प्रभावित किया।

पाकिस्तान के मौसम विभाग ने बताया कि भूकंप का केंद्र पाकिस्तान-अफगानिस्तान की सीमा पर स्थित हिंदू कुश की पहाड़ियों में धरती के 236 किलोमीटर नीचे था।

भूकंप के झटके लाहौर, इस्लामाबाद, पंजाब प्रांत के कुछ हिस्सों और उत्तर पश्चिमी खबर पख्तूनख्वा प्रांत और इसकी राजधानी पेशावर एवं जनजातीय इलाकों में महसूस किए गए।

भूकंप के बाद निवासियों में अफरा-तफरी फैल गई। पेशावर के अस्पतालों में संभावित भूकंप पीड़ितों को देखते हुए आपातकाल घोषित कर दिया गया।

भारत की राजधानी दिल्ली में भूकंप के झटकों के बाद डरे लोग घरों, दफ्तरों से बाहर निकल आए। दिल्ली के आसपास के इलाके में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। एहतियात के तौर पर कुछ देर के लिए मेट्रो सेवा रोक दी गई।

भूकंप के झटके जम्मू एवं कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश में भी महसूस किए गए।

भारतीय अधिकारियों ने बताया कि भूकंप की तीव्रता 6.8 थी और इसका केंद्र धरती से 190 किलोमीटर नीचे था।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, अफगानिस्तान के पूर्वी प्रांतों नांगरहार, कुनार और लाघमान में, उत्तर में बाघलान एवं कुंदुज एवं पूर्वोत्तर में तखार एवं बदख्शां प्रांत में भूकंप के झटके महसूस किए गए। बदख्शां के नेशनल डिसास्टर मैनेजमेंट अथारिटी के निदेशक सैयद अब्दुल्ला हुमायूं दहकान ने सिन्हुआ को बताया कि भूकंप का केंद्र पहाड़ी अशकाशिम जिले में था।

चीन ने इस भूकंप का केंद्र धरती से 200 किलोमीटर नीचे बताया है। साथ ही कहा है कि पश्चिमोत्तर चीन के झिंगझियांग प्रांत में भूकंप के झटके महसूस किए गए।

कशगर, होतन और अफगानिस्तान सीमा से सटे स्वायत्तशासी क्षेत्र किजिल्सु किरगिज में भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए।

दक्षिणी झिंगझियांग में सुरक्षा जांच के लिए कुछ रेल खंडों को बंद कर दिया गया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY